Learn Tips and Tricks in hindi: बच्चो को बुद्धू बना सकता है टूथपेस्ट How to protect teeth in toothpaste

Monday, January 21, 2019

बच्चो को बुद्धू बना सकता है टूथपेस्ट How to protect teeth in toothpaste

हाल ही में फ्रांस में जारी एक रिपोर्ट में स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने ढेरों औधोगिक उत्पादों के खतरों से आगाह किया है। विशेषज्ञ बताते है कि टूथपेस्ट में पाया जाने वाले फ्लोराइड का बच्चों के  दिमाग पर बुरा असर पड़ सकता है। हार्वर्ड स्कूल आॅफ पब्लिक हेल्थ के फिलिपे ग्रांजियां और न्ययाँर्क के आइकान स्कूल आॅफ मेडिसन के विकास में रुकावट डालने वाले रसायनों की संख्या छह थी जो अब दोगुनी हो चुकी है।


साल 2006 की एक जांच में इन्होंने इथेनाॅल, पारा औऱ सीमा सहित छह तत्वो का पता लगाया, जिससे बच्चो के मस्तिष्क पर अशर पड सकता है। अब छह औऱ नुकसानदायक रसायनों का पता चला है। इनमे मैंगनीज और फ्लोराइट भी है। इन रसायनों का आम इस्तेमाल होता है। कीटनाशक दवाइयों से लेकर ड्राइक्लीनिंग औऱ अगर पर काबू पाने के लिए इस्तेमाल  में आने वाले उपकरणों में ये रसायन मिलते है। दांतों को भरने या फिर कई देशों में पानी की सफाई में फ्लोराइट का इस्तेमाल होता है।

toothe paste teeth demage how to protect
Toothpaste teeth damage

मस्तिष्क के विकास में रुकावट आने से आॅटिज्म या डिस्लेक्लसया जैसी समय्या हो सकती है। विशेषज्ञों की टीम ने लांसेट न्यूरोलाॅजी मेडिकल जर्नल में लिखा है कि इस बात के 'पक्के सबूत' है कि रसायनों और मस्तिष्क से जुडी इन बीमारियों में गरहा संबंध है। लांसेट में प्रकाशित समीक्षा में कहा गया, 'हमारी सबसे बडी चिंता है कि दुनिया भर में बच्चे कई खतरनाक अनजाने रसायनों की चपेट में आ  रहे है। ये बड़ी खामोशी से उनकी बुद्धिमत्ता को घटा रहे हैं, व्यवहार को प्रभावित करते है, भविष्य की उपलब्धियों को सीमित करते है औऱ इस तरह पूरे समाज को नुकसान पहुंचाते है। खास तौर पर विकासशील देशों में असर कहीं ज्यादा है।
ये विशेषज्ञ अपील कर रहे है कि बाजार में मौजूद और नए नए उत्पादों के साथ प्रवेश कर रहे सभी औधोगिक रसायनों की जांच हो। वही कुछ विशेषज्ञ मानते है कि इश बात भरोसा ठीक नहीं उनका मानना है कि इन ढेरो मानसिक बीमारियों का औधोगिक रसायनो के साथ कोई सीधा संबंध स्थापित नहीं हो सकता है।

No comments:

Post a Comment

www.dccbidhuna.com Comment Message sent Successful:

Note: Only a member of this blog may post a comment.